0
Warning: trim() expects parameter 1 to be string, array given in /home/sbpsmartclass/public_html/bbaysindia.in/wp-includes/random_compat/random.php on line 1

Warning: trim() expects parameter 1 to be string, array given in /home/sbpsmartclass/public_html/bbaysindia.in/wp-includes/random_compat/random_bytes_dev_urandom.php on line 1

Warning: trim() expects parameter 1 to be string, array given in /home/sbpsmartclass/public_html/bbaysindia.in/wp-includes/class-wp-list-util.php on line 1

Warning: trim() expects parameter 1 to be string, array given in /home/sbpsmartclass/public_html/bbaysindia.in/wp-includes/date.php on line 1

Warning: trim() expects parameter 1 to be string, array given in /home/sbpsmartclass/public_html/bbaysindia.in/wp-includes/class-wp-term-query.php on line 1

Warning: trim() expects parameter 1 to be string, array given in /home/sbpsmartclass/public_html/bbaysindia.in/wp-includes/rest-api/endpoints/class-wp-rest-attachments-controller.php on line 1

Warning: trim() expects parameter 1 to be string, array given in /home/sbpsmartclass/public_html/bbaysindia.in/wp-includes/rest-api/endpoints/class-wp-rest-post-statuses-controller.php on line 1

Warning: trim() expects parameter 1 to be string, array given in /home/sbpsmartclass/public_html/bbaysindia.in/wp-includes/rest-api/endpoints/class-wp-rest-settings-controller.php on line 1
Bhavishya Ki Yojana – Baba Budh Amarnath Yatra Sangh
बाबा बूढ़ा अमरनाथ यात्रा संघ

दृष्टि पत्र ( भविष्य की योजना) 2023

माँ तुम्हारा ऋण बहुत है, मैं अकिंचन .....

सृष्टि के प्रारंभ में आदिपुरूष सर्वशक्तिमान परमेश्वर ने एकोहं बहुस्यामः अर्थात एक से अनेक होने के संकल्प के साथ ही जीव के सम्मुख विस्तार के भाव को मानो स्थापित कर दिया। एक प्रकार से यह जीव का नैसर्गिक कर्तव्य बन गया। और जब बात वैचारिक विस्तार की हो तो यह और भी महत्वपूर्ण हो जाती है। जिस प्रकार सूर्य की प्रथम किरण ही अंधकार के समापन की घोषण करती है और धीरे-2 अंधकार सूर्य के प्रकाश में विलीन हो जाता है उसी प्रकार सद्विचारों का प्रसार कुविचारों के समापन का शंखनाद होता है। इस प्राकृतिक अटल सत्य को मूल में रख कर बाबा बूढ़ा अमरनाथ यात्रा संघ भी विस्तार करने के लिये प्रतिबद्ध है एवं संकल्पित है।
प्रस्तुत पत्रों में अगले पाँच वर्षों की योजनाओं का प्रस्तावित प्रारूप है। आज की कार्यशाला में आवश्वक परिवर्तनों के साथ इसको सत्यापित करना है।
यह सत्यापित दृष्टिपत्र हमारा पथ प्रदर्शक बनें हमें संगठनात्मक दृष्टि से आगे के रास्ते दिखायेगा ऐसी अपेक्षा है।

बबा बूढ़ा अमरताथ यात्रा संघ 2023

तन समर्पित मन समर्पित और यह जीवन समर्पित चाहता हूँ देश की धरती तुझे कुछ और भी दूं
गगन गगनाकार सागररू सागरोपम।
राम रावणभोर्युद्धं राम रावण भोरिव॥
आकाश-आकाश के सामान है, महासागर-महासागर के समान है। राम रावण युद्ध की तुलना राम रावण युद्ध से ही हो सकती है इसी प्रकार हमारे संगठन की तुलना भी केवल हम से ही हो सकती है।

पुंछ यात्रा लक्ष्य 2023



पुंछ यात्रा लक्ष्य 2023
• यात्री संख्या 1000
• पुंछ से मंदिर तक पैदल यात्रा
• पुंछ के दूसरे स्थानों का समायोजन
• पाँच राज्यों से यात्रा में सहभागिता
• इंडियन आर्मी के साथ भारत आभार पर्व
• इनबाउंड यात्रा-पुंछ से वृन्दावन
• पुंछ से शीशगंज
• यात्रा में देश की 10 यूनिवर्सिटी का प्रतिनिधित्व
• 2000 NGOs से आभार पत्र

यशोदा लक्ष्य 2023
• 300 दान दाताओं का मजबूत तंत्र
• 150 बच्चों की सहायता
• 100 बाबा नंद
• 5100 वार्षिक दानदाता

सेवा केंद्र 2023
• 100 नियमित दानदाताओं का तंत्र
• दिल्ली में 10 सेवा केंद्र
• वनवासी क्षेत्र में 5 सेवा केंद्र
• 1100 वार्षिक वाली दानदाता सदस्यता

रक्त दान 2023
• 2000 संख्या का मजबूत डेटा बैंक
• 200 संख्या विशेष दानदाता
• मोबाइल ऐप का निर्माण
• AFTC रक्तदान शिविर में दिल्ली के 50% कॉलेजो का प्रतिनिधित्व
• 3 और राज्यों में ऐसे ही रक्तदान आयोजन

जैसलमेर यात्रा 2023
• उत्तर भारत की यात्रा के रूप में स्थापत्य।
• तनोट देवी माता मंदिर की यात्रा का दिल्ली में प्रचार।
• यात्रा में DU के 50% कॉलेज का प्रतिनिधित्व।
• कॉलेज में सीमा दर्शन को प्रोत्साहन।

अभिमान तिरंगा 2023
• 51 दानदाताओं की समिति का निर्माण।
• जिंदल स्टील से योजनाओं की चर्चा।
• 5 लोकसभा क्षेत्रों में तिरंगे की स्थापना।

अंडमान यात्रा 2023
• दिल्ली से 200 की संख्या का लक्ष्य।
• 50 Govt EmployeeAssociation से सम्पर्क एवं LTC टूर का आग्रह।
• अंडमान से इनबाउंड यात्रा।

मोयरंग यात्रा 2023
• 100 संख्या का लक्ष्य
• 500 आभार पत्र
• ठन बाउंड यात्रा